वैक्यूम बम क्या है , कितना घातक है यह बम

Amazon और Flipkart पर गारंटीड 50% से 60% तक की छुट पाने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े। ​

आज कि इस लेख में हम वैक्यूम बम के बारे में जानने वाला है वैक्यूम बम क्या है इसके प्रभाव से इतना कितना दुष्प्रभाव पड़ सकता है?

यूक्रेनियन राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने दावा किया है कि रूस के द्वारा वैक्यूम बम का इस्तेमाल किया गया है आज किस लेख में हम वैक्यूम बम के बारे में जानेंगे वैक्यूम बम क्या होता है? इसका इस्तेमाल किस तरह से लोगों पर अपना प्रभाव डालता है और यह क्यों इतना खतरनाक बम माना जाता है।

वैक्यूम बम क्या है

वैक्यूम बम को थर्मोबैरिक हथियार भी कहा जाता है परमाणु बम के बाद यह दूसरा बम जिसे सबसे खतरनाक माना जाता है इन्हीं कारणों की वजह से इस हथियार को जिनेवा सम्मेलन में इस बम को प्रयोग करने पर रोक लगा दी थी लेकिन रूस के द्वारा इस बम का प्रयोग किया गया है

वैक्यूम बम सबसे ज्यादा शक्ति वाले इस विस्फोटक हथियारों में से एक है यह जिस जगह पर भी इसका इस्तेमाल किया जाता है वहां के वातावरण से यह पूरी तरह से ऑक्सीजन को सोख लेता है और जब इसका विस्फोट किसी जगहों पर होता है तो वहां पर लोगों को भाप में बदलने की क्षमता रखता है।इसमें इतनी क्षमता होती है यह शहरों को मलबे में भी बदल सकती है।

वैक्यूम बम क्या है
वैक्यूम बम क्या है

वैक्यूम बम का विकास कब और कहां हुआ?

इस प्रकार के हथियारों को सन 1960 के दशक में अमेरिका और सोवियत संघ जैसे देशों ने मिलकर इसे विकसित किया था सन 2007 में सितंबर महीने में रूस ने इस हथियार का प्रयोग किया जिससे कुल 40 टन के आसपास उर्जा निकली थी धीरे-धीरे दोनों देशों ने ऐसी कई बमों का विकास किया।

लेकिन इस  प्रकार के हथियारों को अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के कारण इन देशों ने ना ही किसी को बेचा और ना ही से सार्वजनिक तौर पर कहीं पर भी इस्तेमाल किया गया ऐसा कहा जाता है कि अमेरिका के थर्मो बैरिक हथियारों के की कीमत 16 मिलियन डॉलर से अधिक आती है जिसकी भारतीय कीमत एक अरब बीस करोड़ छियानबे लाख बावन हजार दौ सौ रुपये है।

वैक्यूम बम कैसे काम करता है?

वैक्यूम बम जिस जगह पर भी इसका इस्तेमाल किया जाता है वहां के आसपास के वातावरण से ऑक्सीजन को सुख लेता है ऑक्सीजन को अपने पास एकत्र करने से वातावरण के तापमान में अचानक से काफी तेजी से वृद्धि होती है और जब यह बम फटता है तो तापमान में अचानक से आए वृद्धि के कारण यह काफी बड़े विस्फोट के रूप में फूटता है। ऑक्सीजन का इस्तेमाल करने की वजह से वैक्यूम बम सामान्य तक किसी दूसरे बम की तुलना में सबसे ज्यादा तबाही मचाता है इसका इस्तेमाल जहां पर भी होता है वहां के आसपास के लोगों को जहां तक भी इसका प्रभाव होता है वहां के लोगों को या भात बना देने में सक्षम होता है वैक्यूम वह सबसे पहले हवा में स्प्रे छोड़ता है जिनमें धातु ज्वलनशील धूल और केमिकल ड्रॉप के बहुत ही बारीक कण होते हैं।

वैक्यूम बम क्या है

इस लेख के बारे में:

तो आपने इस लेख में जाना की वैक्यूम बम क्या है ? इस लेख को पढ़कर आपको कैसा लगा आप अपनी राय हमें कमेंट कर सकते है। इस लेख में सामान्य तौर पर किसी भी प्रकार की कोई गलती तो नहीं है लेकिन अगर किसी भी पाठक को लगता है कि इस लेख में कुछ गलत है तो कृपया कर हमे अवगत करे। आपके बहुमूल्य समय देने के लिए और इस लेख को पढने के लिए allhindi की पूरी टीम आपका दिल से आभार व्यक्त करती है।

इस लेख को अपने दोस्तों तथा किसी भी सोशल मीडिया के माध्यम से दुसरो तक यह जानकारी पहुचाये। आपकी एक शेयर और एक कमेंट ही हमारी वास्तविक प्रेरणा है।

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram

Leave a Comment

Trending Post

Request For Post