TATA Steel Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2026, 2027, 2028, 2029, 2030 | Tata Steel Share Price Target 2025

Tata Steel Share Price Target 2025, Tata Steel Work, Future Plan, Market Cap, Risk, Growth, Latest News, Holding Pattern

टाटा स्टील क्या है? ( Tata Steel Kya Hai )

टाटा स्टील की स्थापना वर्ष 1907 में एशिया की पहली प्राइवेट स्टील कंपनी के रूप में हुई थी। वर्तमान में टाटा स्टील ने 50 से अधिक देशों में अपनी उपस्थिति दर्ज कर लिया है। इस कंपनी में निर्माण किए हुए उत्पाद का उपयोग मोटर वाहन, जहाज निर्माण और इंजीनियरिंग के साथ-साथ बहुत सारे क्षेत्रों में किया जाता है। यह दुनिया में इस्पात उत्पादक कंपनी के रूप में 12 स्थान पर है।

Tata Steel Share Price Target 2025

टाटा स्टील क्या काम करती है? ( Tata Steel Kya Kam Karti Hai )

टाटा स्टील का मुख्य व्यवसाय स्टील का उत्पादन करना है। यह दुनिया में स्टील के सबसे कम लागत वाले उत्पाद निर्माण करने वाली कंपनी है। यह कंपनी नई स्टीलमेकिंग तकनीक पर शोध करके कार्बन उत्सर्जन को कम एवं अपने उत्पाद एवं सेवाओं के विकास का कार्य करती है।

अपने मुख्य व्यवसाय के अलावा टाटा स्टील कंपनी इलेक्ट्रिक वाहनों और रिन्यूएबल एनर्जी के निर्माण पर भी कार्य करती हैं।

टाटा स्टील का फ्यूचर प्लान क्या है? ( Tata Steel Ka Future Plan Kya Hai )

वैसे तो टाटा स्टील कंपनी भारत की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी है। परंतु यह कंपनी भारत में अपनी उत्पादन क्षमता को विस्तार करने के लिए कई परियोजनाओं में निवेश कर रही हैं। इसके साथ-साथ यह इलेक्ट्रिक वाहनों के पार्ट्स और रिन्यूएबल एनर्जी के निर्माण तथा कार्बन उत्सर्जन को कम करने और पर्यावरण में सुधार करने के उद्देश्य से देश हित में कार्य कर रही है।

टाटा स्टील अपने ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए हाई पावर स्टील, हल्के स्टील जैसे नए नए उत्पादों और सेवाओं के विकास पर फोकस कर रही है।

टाटा स्टील शेयर होल्डिंग पैटर्न क्या है? ( What is Tata Steel Share Holding Pattern in Hindi )

ShareholdersPercentage
प्रमोटर्स33.90%
फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (FII)20.62%
डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (DII)20.84%
पब्लिक इन्वेस्टर्स23.91%

टाटा स्टील के फाइनेंशियल कंडीशन के मुख्य बिंदु

टाटा स्टील में निवेश करने से पहले कम्पनी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं के बारे में जानकारी होना आवश्यक है, क्योंकि यह सारे बिंदु आपको कम्पनी के फ्यूचर को सही तरह से आंकने में मदद कर सकते हैं। तो आइए इन बिंदुओं को देखते हैं-

सेल्स ग्रोथ: किसी कंपनी का सेल्स ग्रोथ यह बताता है कि एक निश्चित फाइनेंशियल ईयर में कंपनी के प्रोडक्ट की बाजार में मांग कितनी है तथा कंपनी में अपने प्रोडक्ट को बेचकर कितना प्रॉफिट कमा रही है।

वर्तमान में टाटा स्टील का सेल्स ग्रोथ 53.35% है। इससे यह पता चलता है कि कंपनी के भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करने की संभावना अधिक है।

प्रॉफिट ग्रोथ: किसी कंपनी की प्रॉफिट ग्रोथ यह बताता हैं कि एक निश्चित समय अवधि में कंपनी अपने सेल्स या देने वाली सर्विसेज से कितने प्रतिशत की प्रॉफिट कर रही है। किसी कंपनी की प्रॉफिट ग्रोथ प्रतिशत जितना अधिक होता है, कंपनी में निवेश के लिए उतना अच्छा माना जाता है।टाटा स्टील का प्रॉफिट ग्रोथ 93.30% प्रतिशत है। जो कंपनी के अच्छे प्रदर्शन को दर्शाती हैं।

प्राइस टू अर्निंग (P/E) रेशियों: किसी कंपनी का प्राइस टू अर्निंग रेशियों यह बताता है कि एक निवेशक कंपनी के 1 शेयर के लिए कितना भुगतान करने को तैयार है। अगर किसी कंपनी का प्राइस टू अर्निंग रेशियों शून्य या उससे नीचे है तो उस कंपनी के व्यापार करने वाले शेयरों का मूल्यांकन नहीं किया जाता है।

किसी कंपनी का प्राइस टू अर्निंग (P/E) रेशियों जितना कम होता है, उस कंपनी के ग्रोथ होने की संभावना उतनी ज्यादा होती है।

टाटा स्टील का वर्तमान P/E रेशियों 8.59 है, जो तुलनात्मक रूप से कम है। प्राइस टू अर्निंग (P/E) रेशियों का कम होना कंपनी के लिए अच्छा भी माना जाता है।

रिटर्न ऑन एसेट्स (ROA): किसी कंपनी का रिटर्न ऑन एसेट्स यह मापता है कि कोई कंपनी अपने एसेट्स पर कितना प्रभावी रिटर्न कमा सकती है मतलब कोई कंपनी संपत्ति खरीदने के लिए उपयोग किए गए धन को कैश या प्रॉफिट में कितनी कुशलता से परिवर्तित कर सकती हैं। टाटा स्टील का रिटर्न ऑन एसेट्स 16.40% है जो भविष्य के प्रदर्शन के लिए एक अच्छा संकेत है।

रिटर्न ऑन इक्विटी (ROE): किसी कंपनी का रिटर्न ऑन इक्विटी उस कंपनी के द्वारा अपने शेयरधारकों के निवेश किये गये फंड से प्रोफिट उत्पन्न करने की क्षमता को मापता है। दूसरे शब्दों में कहें तो रिटर्न ऑन इक्विटी यह दर्शाता है कि आम निवेशक के द्वारा निवेश किए हुए फंड के 1 रूपये पर कितना लाभ उत्पन्न करता है। अगर किसी कंपनी का रिटर्न ऑन इक्विटी 15 से अधिक है तो कंपनी में निवेश अच्छा माना जाता है। टाटा स्टील का रिटर्न ऑन इक्विटी 30.19% है। जो कंपनी में भविष्य के लिए निवेश के दृष्टिकोण से सही है।

रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड (ROCE): किसी कंपनी का रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड यह मापता है कि कोई कंपनी अपनी नियोजित पूंजी (ऋण और इक्विटी) का कितनी कुशलता से उपयोग कर रही है।

किसी कंपनी का रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड 20 से अधिक उस कंपनी में निवेश के लिए अच्छा माना जाता है। टाटा स्टील का रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड 32.98% है जो तुलनात्मक रूप से अधिक है। अतः इस कंपनी में निवेश मिर्ची रिटर्न दे सकता है।

प्रमोटर्स शेयर होल्डिंग: अगर किसी कंपनी के प्रमोटर्स (डायरेक्टर और बोर्ड ऑफ मेंबर) के पास 45% से अधिक शेयर होल्डिंग है तो कंपनी की स्थिति अच्छी मानी जाती है। तथा ऐसे कंपनी में निवेश करने वाले निवेशक को निश्चित ही अच्छा रिटर्न मिलने की पूरी संभावना रहती है।

अगर टाटा स्टील के प्रमोटर्स का शेयर होल्डिंग देखे तो 33.90% है। इस आधार पर देखा जाए तो बैंक के पास कम शेयर होल्डर हैं। जो कंपनी के भविष्य के लिए सही नहीं मानी जाती है।

यह भी पढे: Tata Power Share Price Target 2025

टाटा स्टील के फाइनेंशियल कंडीशन का संक्षिप्त विवरण ( Financial Condition of Tata Steel Company by Table in Hindi )

मार्केट कैप₹1,33,091.71 करोड़
नंबर ऑफ शेयर्स1,222.15 करोड़
सेल्स ग्रोथ53.35%
प्रॉफिट ग्रोथ93.30%
प्राइस टू बुक (P/B) रेशियों0.99
प्राइस टू अर्निंग (P/E) रेशियों8.59
डेट टू इक्विटी (D/E) रेशियों0.26
इक्विटी पर शेयर (EPS)₹12.68
कर्ज/ऋण/उधार₹32,275.47 करोड़
रिटर्न ऑन एसेट्स (ROA)16.40%
रिटर्न ऑन इक्विटी (ROE)30.19%
रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड (ROCE)32.98%
पिछले 52 Week High₹124.30
पिछले 52 Week Low₹82.70

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2023 ( Tata Steel Share Price Target 2023 )

पिछले एक-दो साल से टाटा स्टील कंपनी के शेयर में काफी गिरावट देखने को मिल रही है, परंतु कंपनी की सेल्स ग्रोथ और प्रॉफिट ग्रोथ में काफी उछाल देखने को मिल रहा है। इसका सबसे बड़ा कारण कंपनी की मजबूत उत्पादन क्षमता और ग्राहकों का कंपनी के प्रोडक्ट के प्रति विश्वास माना जा रहा है।

कंपनी लगातार अपने ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए नए उत्पादों और सेवाओं का विकास कर रही है। इसके साथ-साथ यह भारत और अन्य देशों में रोजगार को बढ़ावा देने, शिक्षा, स्वास्थ्य संबंधित देखभाल तथा अपने कर्मचारियों के कौशल और प्रशिक्षण में सुधार करने तथा कंपनी के बुनियादी ढांचे के विकास पर फोकस कर रही है।

कंपनी के इस तरह के प्लानिंग को देखते हुए विशेषज्ञों की राय है कि आप इस कंपनी में वर्तमान में अपने शेयर को होल्ड करके रख सकते हैं जो भविष्य में आपको निश्चित ही बेहतर रिटर्न देंगे।

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹175 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹184 तक होने की संभावना है।

महीनान्यूनतम कीमत (INR में)अधिकतम कीमत (INR में)
जनवरी₹114.36₹125.44
फरवरी₹120.12₹128.10
मार्च₹125.54₹132.56
अप्रैल₹131.07₹137.37
मई₹136.73₹144.19
जून₹142.00₹146.41
जुलाई₹147.50₹155.00
अगस्त₹153.98₹160.78
सितंबर₹158.45₹169.14
अक्टूबर₹164.00₹175.21
नवंबर₹169.74₹177.45
दिसंबर₹175.12₹184.02

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2024 ( Tata Steel Share Price Target 2024 )

टाटा स्टील कंपनी दिन प्रतिदिन अपने व्यापार को बढ़ाने के लिए नए-नए केंद्रों की स्थापना कर रहा है। यह कंपनी दक्षिण अफ्रीका, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका जैसे देशों में नई परियोजनाओं में निवेश कर रही है।

अभी हाल ही में इस कंपनी ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (इंडियन स्कूल ऑफ माइंस) के साथ मिलकर धनबाद में खनन और खनिज की शोध और विकास के लिए एक केंद्र स्थापित किया है। कंपनी के इस केंद्र का लक्ष्य प्राकृतिक और शहरी खनन में तकनीकी समाधान को विकसित करने तथा उच्चतम ग्रेड वाले उत्पादों का निर्माण करके अपने दीर्घकालिक प्रतिस्पर्धा को मजबूत करना है।

इसके अलावा टाटा स्टील ने भारत के गतिशीलता क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के साथ मिलकर मद्रास रिसर्च पार्क में सेंटर फॉर इन्नोवेशन इन मोबिलिटी की स्थापना की है। क्या केंद्र आटोमोटिव रेलवे पर हाइपरलूप जैसे वर्तमान और भविष्य के मोबिलिटी प्लेटफार्म के लिए एप्लीकेशन तकनीक का विकास करेगा।

कंपनी के इस तरह के फ्यूचर प्लानिंग को देखते हुए एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस कंपनी में निवेश की आपको अच्छा रिटर्न देगा। टाटा स्टील शेयर प्राइस 2024 का पहला टारगेट लगभग ₹239 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹244 तक होने की संभावना है।

महीनान्यूनतम कीमत (INR में)अधिकतम कीमत (INR में)
जनवरी₹202.74₹214.85
फरवरी₹218.01₹227.20
मार्च₹212.17₹221.09
अप्रैल₹227.45₹236.42
मई₹224.20₹230.00
जून₹219.05₹228.19
जुलाई₹216.78₹225.51
अगस्त₹210.56₹219.47
सितंबर₹221.92₹233.68
अक्टूबर₹232.21₹239.10
नवंबर₹229.02₹234.74
दिसंबर₹235.14₹244.40

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2025 ( Tata Steel Share Price Target 2025 )

टाटा स्टील देश हित एवं पर्यावरण के लिए भी कार्य करने पर फोकस कर रहा है। कच्चे मटेरियल से स्टील और लोहे के उत्पादों को बनाने में कंपनी कोयले का प्रयोग करती है जिससे निकलने वाला कार्बन पर्यावरण के लिए सही नहीं माना जा रहा है। कंपनी कार्बन से पर्यावरण को होने वाले नुकसान के लिए कार्बन कैप्चर करके प्रदूषण के स्तर को कम करने पर भी कार्य कर रही है।

अभी हाल ही में टाटा स्टील कंपनी नेम कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के लिए अपने सहायक कंपनी टाटा स्टील माइनिंग की मदद से फ्रेंच क्लीनटेक कंपनी मेट्रोन के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है।

इस समझौते के अनुसार टाटा स्टील मेट्रोन द्वारा विकसित सॉफ्टवेयर के द्वारा माइनिंग की निगरानी, विश्लेषण, ऊर्जा की खपत को अनुकूलित करने के लिए उचित संयंत्रों का प्रयोग करके कार्बन को कम करने पर कार्य करेगा। यह सॉफ्टवेयर आसपास के क्षेत्रों को डेकार्बोनाइज करने, ऊर्जा की खपत को अनुकूलित करने, उत्पाद बनाने में लगने वाले लागत को कम करने और परिचालन दक्षता में सुधार करने के लिए कंपनी को डिजिटल बनाने में मदद करेगा।

कंपनी का फ्यूचर प्लानिंग यह बताता है कि भविष्य में कंपनी के अच्छे प्रदर्शन के साथ ग्रोथ होने की पूरी संभावना है। अगर आप इस कंपनी में इस समय शेयर को खरीद कर लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करते हैं तो आने वाले समय में आपको अच्छा रिटर्न मिलने की पूरी संभावना है।

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2025 का पहला टारगेट लगभग ₹299 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹317 तक होने की संभावना है।

महीनान्यूनतम कीमत (INR में)अधिकतम कीमत (INR में)
जनवरी₹236.42₹244.72
फरवरी₹240.15₹249.35
मार्च₹246.78₹255.50
अप्रैल₹251.01₹267.04
मई₹242.95₹250.12
जून₹235.40₹242.10
जुलाई₹232.10₹238.61
अगस्त₹249.43₹261.17
सितंबर₹262.12₹280.01
अक्टूबर₹279.34₹286.12
नवंबर₹287.31₹299.71
दिसंबर₹302.74₹316.81

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2026 ( Tata Steel Share Price Target 2026 )

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2026 का पहला टारगेट लगभग ₹410 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹446 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹410
दूसरा टारगेट₹446

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2027 ( Tata Steel Share Price Target 2027 )

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2027 का पहला टारगेट लगभग ₹504 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹539 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹504
दूसरा टारगेट₹539

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2028 ( Tata Steel Share Price Target 2028 )

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2028 का पहला टारगेट लगभग ₹598 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹633 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹598
दूसरा टारगेट₹633

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2029 ( Tata Steel Share Price Target 2029 )

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2029 का पहला टारगेट लगभग ₹693 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹726 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹693
दूसरा टारगेट₹726

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2030 ( Tata Steel Share Price Target 2030 )

टाटा स्टील शेयर प्राइस 2030 का पहला टारगेट लगभग ₹787 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹820 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹787
दूसरा टारगेट₹820

टाटा स्टील शेयर प्राइस टारगेट 2023, 2024, 2025, 2026, 2027, 2028, 2029, 2030 (Tata Steel Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2026, 2027, 2028, 2029, 2030 )

बर्षपहला टारगेटदूसरा टारगेट
2023₹175₹144
2024₹239₹244
2025₹299₹317
2026₹410₹446
2027₹504₹539
2028₹598₹633
2029₹693₹726
2030₹787₹820

टाटा स्टील शेयर में निवेश करना चाहिए या नहीं? ( Should We Invest in Tata Steel Share or Not in Hindi )

पिछले 12 महीनों के आंकड़ों के मुताबिक शेयर बाजार में टाटा स्टील के शेयर की कीमत में तेजी देखने को मिल रहा है। वर्तमान में टाटा स्टील के 1 शेयर की कीमत ₹108.90 INR है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि भविष्य में इसके शेयर की कीमत में काफी हद तक वृद्धि होने की उम्मीद है।

अगर आप एक निवेशक के रूप में लॉन्ग टर्म में निवेश के लिए अच्छे रिटर्न वाले शेयरों की तलाश कर रहे हैं तो आप टाटा स्टील के शेयर में निवेश कर सकते हैं। यह भविष्य में निश्चित ही आपको अच्छा रिटर्न देगा।

टाटा स्टील शेयर का भविष्य क्या है? ( Tata Steel Share Price Ka Bhavishya Kya Hai )

टाटा स्टील कंपनी अपने उत्पादन क्षमता को बढ़ाने और अपनी कंपनी के विस्तार के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। इसके लिए कंपनी बहुत सारी कंपनियों के साथ साझेदारी कर रही है। जिसमें फ्रेंच क्लीनटेक कंपनी मेट्रोन, एमएन दस्तूर एंड कंपनी, ए एंड बी ग्लोबल माइनिंग कंपनी, पीएलआई योजना के तहत भारत का इस्पात मंत्रालय जैसी अनेक कंपनियां शामिल है।

इस आधार पर देखा जाए तो कंपनी के भविष्य में ग्रोथ होने की संभावना बढ़ जाती है। एक्सपोर्ट का मानना है कि इस कंपनी के शेयर लॉन्ग टर्म में अच्छा रिटर्न देने वाले हो सकते हैं।

टाटा स्टील लेटेस्ट न्यूज़ ( Tata Steel Latest News )

  • टाटा स्टील कंपनी के पिछले तिमाही फाइनेंशियल रिपोर्ट में कंपनी के रेवेन्यू में -48.71% की भारी गिरावट देखने को मिल रही है।
  • कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के लिए टाटा स्टील की सहायक कंपनी टाटा स्टील माइनिंग फ्रेंच क्लीनटेक कंपनी मैक्रोन के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए है।
  • टाटा स्टील ने ए एंड पी ग्लोबल माइनिंग के साथ व्यापार सहयोग समझौता पर हस्ताक्षर किए हैं।

टाटा स्टील के शेयर में निवेश में रिस्क ( What is Risk to Invest in Tata Steel Share in Hindi )

वैसे तो टाटा स्टील कंपनी भारत की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी है। लेकिन इसके शेयरों में निवेश करने में अभी भी कुछ जोखिम बना हुआ है जैसे-

अस्थिरता: किसी भी कंपनी के शेयरों की कीमत शेयर बाजार और कंपनी के प्रदर्शन पर निर्भर करती है। परंतु कभी-कभी शेयर बाजार में अत्यधिक उतार-चढ़ाव आने के कारण कंपनियों के शेयर की कीमत पर प्रभाव पड़ जाता है। अगर भविष्य में शेयर बाजार में किसी भी प्रकार का उतार-चढ़ाव होता है, तो टाटा स्टील के शेयरों की कीमत अस्थिर हो सकती है।

कमोडिटी कीमत: टाटा स्टील के अधिकतर उत्पाद लोहे और स्टील बनाए जाते हैं और इन्हें बनाने में अधिकतर कोयले का इस्तेमाल किया जाता है अगर भविष्य में लोहे स्टील की कीमत कम और कोयले जैसे कच्चे माल की कीमत अधिक होती है तो तो टाटा स्टील कंपनी के प्रदर्शन पर इसका प्रभाव पड़ सकता है और शेयर की कीमत में गिरावट आ सकती है।

प्रतिस्पर्धा: आजकल लोहे और स्टील के उत्पाद का निर्माण करने वाले बहुत सी कंपनियां मार्केट में आ गई हैं इसके कारण टाटा स्टील को दुनिया भर के स्टील उत्पादक कंपनियों से प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है। यह कंपनियां टाटा स्टील काफी हद तक प्रभावित कर सकती हैं।

वैश्विक आर्थिक दशा: अगर किसी कारणवश मार्केट में स्टील की मांग में गिरावट आती है, तो ऐसी दशा में स्टील की मांग कम हो सकती है‌, और यह कहीं ना कहीं टाटा स्टील को प्रभावित कर सकती हैं।

Scroll to Top