संस्कृत में रिश्तेदारों के नाम | Sanskrit Mein Rishtedaaro ke NAAM

Amazon और Flipkart पर गारंटीड 50% से 60% तक की छुट पाने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़े। ​

नमस्कार दोस्तों allhindi.co.in के एक नए लेख में आप सभी का स्वागत हैं| आज की इस लेख में आप संस्कृत में रिश्तेदारों के नाम जानेंगे| हम सभी के जीवन में बहुत सारे रिश्तो के नाम होते हैं कुछ रिश्ते उनमे से हमने खुद बनाये होते हैं और कुछ रिश्ते हमें परिवार से मिलते हैं|

क्या आप रिश्तो के नाम को संस्कृत में जानना चाहते हैं | अगर आप इसके बारे में जानकारी ढूंढ रहे है तो आज की यह लेख आपको यह जानने में मदद करेगी| तो आइये जानते हैं कि संस्कृत में रिश्तेदारों के नाम

संस्कृत में रिश्तेदारों के नाम

संस्कृत में रिश्तेदारों के नाम
Sr. No.Sanskrit NameHindi
1.पिता, जनक:पिता
2.प्रिय:दुलारा
3.सौभाग्यवती स्त्रीसुहागिन स्त्री
4.कानीन:कुँवारी कन्या का पुत्र
5.निकटतक: घनिष्ठ अन्तरङ्ग
6.बन्धु:रिश्तेदार ज्ञाति:
7.सगोत्र: खानदानी
8.साध्वी/ सच्चरित्रापतिव्रता स्त्री
9.मृतभर्तृकाविधवा
10.युवतीजवान स्त्री
11.महिला स्त्रीऔरत
12.ललना, नारी, स्त्री महिला
13.पुरुषमर्द
14.मनुष्य: / नर आदमी
15.भृत्या/सेविकानौकरानी
16.भृत्य:/सेवक:नौकर
17.स्वामीमालिक
18.आलि:/वयस्या/सखीसहेली
19.सखा/मित्रम्दोस्त
20.प्रेमिका/उपपत्नीप्रेमिका
21.जार:/उपपति:प्रेमी
22.प्रमातामही परनानी
23.प्रमातामह:परनाना
24.मातामहीनानी
25.मातामह:नाना
26.प्रपितामहीपरदादी
27.प्रपितामह:परदादा
28.पितामहीदादी
29.पुत्र:,तनय:, सुत:बेटा
30.औरस:,उरस्यसगा बेटा
31.पितामहदादा
32.भागिनेयी/स्वस्रीया भानजी
33.भागिनेय:/स्वस्रीयभानजा:
34.भ्रातृसुता/भ्रातृव्याभतीजी
35.भ्रातृव्य:/भ्रातृज:भतीजा
36.पौत्रीपोती
37.पौत्र:पोता
38.दौहित्री/नप्त्रीधेवती
39.दौहित्र:धेवता
40.पुत्री, तनया,सुताबेटी
Sr. No.SanskritHindi
41.सम्बन्धीसमधी
42.सम्बन्धिनीसमधिन
43.श्वश्रू:सास
44.श्वसुरससुर
45.जामातादामाद
46.पुत्रवधू:, स्नुषापतोहू
47.देवर:, देवादेवर
48.यातादेवरानी
49.ज्येष्ठ:,पत्यग्रज: जेठ
50.ज्येष्ठाजेठानी
51.ननन्दाननद
52.मातृष्वसृपति:मौसा
53.मातृष्वसा मौसी
54.भ्रातृजाया/प्रजावतीभौजी
55.श्याल:साला
56.श्याली/श्यालिकासाली
57.आवुत्त:/भगिनीपति:बहनोई
58.ज्येष्ठाम्बा,अम्बालाबड़ी अम्मा
59.मातुल:मामा
60.पितृष्वसा फुफू
Sr. No.SanskritHindi
61.पितृष्वसृपति:फूफा
62.मित्रम्मित्र
63.मातुली,मातुलानी मामी
64.सहोदरासगी बहिन
65.पति:/भर्ता/वर:पति
66.अर्धाङ्गिनीपत्नी
67.पितृव्य:/तातक:चाचा
68.पितृव्या,पितृव्याणीचाची
69.:ज्येष्ठतात:बड़े पापा
70.मातृष्वस्रीय:/मातृष्वसेय:मौसेरा भाई
71.पैतृष्वस्रीय:/पैतृष्वसेय:फुफेरा भाई
72.अनुजा छोटी बहिन
73.अत्तिका/अग्रजाबड़ी बहिन
74.भगिनी/स्वसाबहिन
75.विमातृज:सौतेला भाई
76.माता, जननी माँ
77.मातुलपुत्र:/मातुलेय:ममेरा भाई
78.पितृव्यपुत्र:पितृव्यज:चचेरा भाई
79.सहोदर:सगा भाई
80.अनुज:छोटा भाई

इससे सम्बंधित लेख

प्रश्न: चाचा को संस्कृत में क्या कहते हैं?

उत्तर: पितृव्य:/तातक:

प्रश्न: सौतेला भाई को संस्कृत में क्या कहते हैं?

उत्तर: विमातृज:

प्रश्न: छोटा भाई को संस्कृत में क्या कहते हैं?

उत्तर: अनुज:

इस लेख के बारे में

अभी तक आपने संस्कृत में रिश्तेदारों के नाम जाना। यदि आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भेजकर हमारा मनोबल बढ़ा सकते है। यदि आपको इस लेख में किसी भी प्रकार के नियम आपको नहीं समझ मे आते है। तो आप नीचे Comment में अपनी confusion लिख सकते है।मै जल्द से जल्द आपके सवालों का जवाब दूंगा। धन्यवाद! इस पूरे पोस्ट को पढ़ने के लिए और अपना कीमती समय देने के लिए आप सभी का धन्यवाद! आपका दिन शुभ हो!

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram

Leave a Comment

Trending Post

Request For Post