जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय [Jagdeep Dhankhar Jeevani, Jagdeep Dhankhar Biography in Hindi]

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय( नाम, जन्म, जन्म स्थान, उम्र, जाति, व्यवसाय, पत्नी, शौक) जगदीप धनखड़ कौन हैं, जगदीप धनखड़ जीवनी, 14वें उपराष्ट्रपति [Jagdeep Dhankhar Jeevani, caste, Jagdeep Dhankhar biography in hindi, professional, educational]

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय [Jagdeep Dhankhar ka Jeevan Parichay]

जगदीप धनखड़ भारतीय जनता पार्टी के एक वरिष्ठ और सम्माननीय सदस्य रहे हैं। वर्तमान में वह  पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के रूप में कार्य करते हैं। 30 जुलाई 2019 को, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के द्वारा उन्हें पश्चिम बंगाल का राज्यपाल बनाया गया। भाजपा के मार्गदर्शन में 16 जुलाई 2022 को भारत के उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने अपना प्रत्याशी घोषित किया भाजपा ने अपना प्रत्याशी घोषित किया और वह भारत के 14वें उपराष्ट्रपति बन गए।

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय

जगदीप धनखड़ का संक्षिप्त जीवन परिचय [Jagdeep Dhankhar Biography]

नाम (Name)जगदीप धनखड़
जन्म (Date of birth)18 मई 1951
जन्म स्थान (Birth Place)किठाना गांव, झुंझुनू जिला, राजस्थान
उम्र (Age)71 साल
जाति (Caste)जाट
प्रसिद्धिभारत के 14वें उपराष्ट्रपति (Vice President)
व्यावसाय (Profession)राजनेता और वकील
राजनीतिक पार्टी (Politics Partie)जनता दल (1988-1991), भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (1991-2003), भारतीय जनता पार्टी (2003- 2019)
स्कूल (School)शासकीय प्राथमिक विधालय, किठाना, सैनिक स्कूल, चित्तौड़गढ़
कॉलेज (College)महाराजा कॉलेज, जयपुर, राजस्थान विश्वविधालय
शैक्षिकबीएससी (ऑनर्स) भौतिक, एलएलबी
शौकयात्रा करना, ध्यान करना और पढ़ना
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)विवाहित
विवाह तिथि (Marriage Date)साल 1979
पत्नी (Wife)डॉ. सुदेश धनकड़
बच्चे (Children)बेटी-कामना धनकड़, बेटा- पता नहीं
पिता का नाम (Father Name)चौधरी गोकल चंद
माता का नाम (Mother Name)केसरी देवी
बड़े भाई का नाम (Elder Brother Name)कुलदीप धनकड़, रणदीप धनकड़
बहन का नाम (Sister name)इंद्र धनकड़
वेतन पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के रूप में (Salary)एक लाख दस हजार रूपये

जगदीप धनखड़ का प्रारंभिक जीवन [Jagdeep Dhankhar Ka Prarambhik Jeevan]

जगदीश धनखड़ का जन्म 18 मई सन 1991 में हुआ था। इनका जन्म राजस्थान मैं इस्थित झुंझुनू जिला के अंतर्गत किठाना गांव में हुआ था। इनका संबंध एक जाट परिवार से था। इनके पिता का नाम गोकल चंद तथा माता का नाम श्रीमती केसरी देवी था। वर्तमान में इनके माता-पिता का निधन हो चुका है। ऐसा बताया जाता है कि श्री जगदीप धनखड़ को मिलाकर का 3 भाई तथा एक बहन है। इनके बड़े भाई का नाम कुलदीप धनखड़ छोटे भाई का नाम रणदीप धनखड़ था तथा बहन का नाम इंद्रा है। इनके भाई इनके बड़े भाई की शादी श्रीमती सुचिता से हुई, छोटे भाई ने श्रीमती सरोज देवी शादी की। तथा इनकी बहन की शादी श्री धर्मपाल डूडी से हुई थी।

जगदीप धनखड़ की प्रारंभिक शिक्षा [Jagdeep Dhankhad Education]

जगदीप धनकर की प्रारंभिक शिक्षा सरकारी प्राथमिक विद्यालय में कक्षा 1 से 5 तक हुई थी। उनकी प्रारंभिक शिक्षण के गांव के सरकारी स्कूल में हुई थी। इसके उपरांत कक्षा 6 में इन्होंने सरकारी मिडिल स्कूल घरधाना में दाखिला लिया। सरकारी मिडिल स्कूल इन के घर से 4 – 5 किलोमीटर की दूरी पर थी। वह अक्सर अपने मित्रों के साथ ही स्कूल जाया करते थे। साल 1962 में उन्होंने सैनिक स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी की।

जगदीप धनखड़ की वैवाहिक जीवन [Jagdeep Dhankhar Married Life]

जगदीप धनखर की पत्नी का नाम सुदेश धनखड़ है। उनकी पत्नी ने सन 1979 मैं वनस्थली विद्यापीठ विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की। सुदेश धनखड़ के पिता का नाम होशियार सिंह हैं। सुदेश धनखड़ की रुचि सामाजिक कार्य, बाल शिक्षा तथा जैविक खेती के विषय में बहुत गहरी रुचि थी। इनकी पत्नी को यात्रा करने का बहुत ही ज्यादा शौक था।

जगदीप धनखड़ किसी एक बेटी है जिसका नाम कामना है। कामना की प्रारंभिक शिक्षा जयपुर के एमजीडी स्कूल से पढ़ाई की है। इसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए ये अजमेर चली गई। अजमेर के मेयो गर्ल्स में उन्होंने आगे की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका के विवर कॉलेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त। 

इनके पास यूके इटली और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों के समर कोर्स थे। वह बहुत सारी भाषाएं जानती हैं लेकिन वह हिंदी अंग्रेजी इतालवी में उन्हें महारत हासिल है। नई दिल्ली के इटारसी दूतावास में इटली संस्थान में इन्होंने इटालियन भाषा भी सीखी। इनकी बेटी की शादी कार्तिकेय बाजपेयी से हुई। कार्तिकेय वाजपेई वर्तमान में सर्वोच्च न्यायालय मे एक वकील पद पर कार्यरत हैं।

जगदीप धनखड़ की राजनैतिक यात्रा [Jagdeep Dhankhar Political Career]

  • सन 1989 से 1991 तक राजस्थान के झुंझुनू के सांसद थे। इसके पश्चात वह जनता दल के सदस्य भी बने।
  • सन 1993 से 1998 तक राजस्थान के किशनगढ़ क्षेत्र में विधानसभा के सदस्य भी रहे हैं। इसके दौरान राज्य में जाट समुदाय सहित अन्य पिछड़े वर्गों को ओबीसी का दर्जा दिलाने में इन सब का बहुत योगदान है।
  • सन 1989 में झुंझुनू संसदीय क्षेत्र से 9वी लोकसभा के लिए इन्हें नियुक्त किया गया।
  • सन 1990 में इन्हें संसदीय समिति का अध्यक्ष चुना गया।
  • सन 1990 में ही इन्हें केंद्रीय मंत्री के लिए भी नियुक्त किया गया।
  • सन 1993 से 1998 तक अजमेर जिले के अंतर्गत किशनगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से राजस्थान विधानसभा के लिए प्रत्याशी चुने गए।
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 155 के तहत 20 जुलाई 2019 को जगदीप धनखड़ को पश्चिम बंगाल का राज्यपाल नियुक्त किया गया। उपराष्ट्रपति बनने से पहले तक वे राज्यपाल के रूप में कार्य करते रहें।
  • भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी को पार्टी के उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार के रूप में जगदीप धनखड़ के नाम की घोषणा की।
  • 6 अगस्त 2022 को आयोजित हुए उपराष्ट्रपति के चुनाव में जगदीप धनखड़ ने अपने प्रतिद्वंदी मार्गरेट अल्वा को हराकर भारत के 14वें उपराष्ट्रपति बने

प्रश्न: जगदीप धनखड़ की जन्म कब हुई थी?

उत्तर: 18 मई 1951

प्रश्न: जगदीप धनखड़ की पत्नी का क्या नाम हैं?

उत्तर: डॉ. सुदेश धनकड़

प्रश्न: जगदीप धनखड़ की बड़े भाई का क्या नाम हैं?

उत्तर: कुलदीप धनखड़

प्रश्न: जगदीप धनखड़ की छोटे भाई का क्या नाम हैं?

उत्तर: रणदीप धनखड़

प्रश्न: जगदीप धनखड़ ने कहा तक पढाई की हैं?

उत्तर:बीएससी (ऑनर्स) भौतिक, एलएलबी

इससे सम्बंधित लेख: अंचिता शेउली का जीवन परिचय जिन्होंने कई मैडल अपने नाम किये
इस बैडमिंटन खिलाडी ने जीते दो गोल्ड मैडल जानिए कौन है वो खिलाडी

Facebook
Twitter
WhatsApp
Telegram

Leave a Comment

Trending Post

Request For Post