IRFC Share Price Target 2025 ( 2023 – 2030 Full Analysis )

IRFC Share Price Target 2025, IRFC Fundamental analysis, Work, Future Growth, IRFC Share Holdings Pattern, Financial Condition, IRFC Share Price Target 20232030, Should You Invest in IRFC Share or Not

इंडियन रेलवे फाइनेंस क्या है? ( Indian Railway Finance Kya Hai )

IRFC Share Price Target 2025
IRFC Share Price Target 2025

इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड की स्थापना 12 दिसंबर 1986 में एक स्मॉल कैप कंपनी के रूप में हुई थी। जिसकी स्थापना में कुल लागत 45,543.74 करोड़ थी। इसकी स्थापना भारतीय रेल मंत्रालय के द्वारा की गई थी। यह भारतीय रिजर्व बैंक के साथ एक वैधानिक बैंकिंग एवं गैर वैधानिक बैंकिंग और इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस कंपनी के रूप में पंजीकृत है।

इस कंपनी का पहला उद्देश्य उचित दरों और शर्तों पर बाजार में उधार के माध्यम से भारतीय रेल के धन की आवश्यकताओं को पूरा करना है। इसके द्वारा भारतीय रेल के लिए घरेलू और विदेशी पूंजी बाजारों से धन को इकट्ठा करना है। जिससे इस इकट्ठा किए गए धन का प्रयोग इंडियन रेलवे नई रेल तथा नई रेल लाइन निर्माण और पुराने रेल लाइन एवं पुराने रेलों की मरम्मत कार्य तथा रोलिंग स्टॉक संपत्ति प्राप्त करने एवं बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए कर सकें।

इंडियन रेलवे फाइनेंस का का मुख्य उद्देश्य इंडियन रेलवे के लिए नए-नए उपकरणों के लिए फंडिंग तथा बाजार में अपने शेयर में निवेश किए गए निवेशकों को अच्छा रिटर्न देने की है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस क्या काम करती है? ( Indian Railway Finance Kya Kam Karti Hai )

पट्टे (Leasing): इंडियन रेलवे फाइनेंस, इंडियन रेलवे रोलिंग स्टॉक परिसंपत्ति और परियोजना संपत्तियों के फंडिंग के लिए लीजिंग मॉडल पर कार्य करती है। आमतौर पर इस लीजिंग की अवधि 30 वर्षों के लिए होती हैं।

धन की उपलब्धता (Lending): इंडियन रेलवे फाइनेंस की गतिविधियों में धन की उपलब्धता भी शामिल है। इसने रेल विकास निगम लिमिटेड, रेलटेल कॉरपोरेशन आफ इंडिया, रेल भूमि विकास प्राधिकरण, कोंकण रेलवे कॉरपोरेशन लिमिटेड और पिपावाव रेलवे कॉरपोरेशन लिमिटेड जैसे रेलवे क्षेत्र की विभिन्न कंपनियों को फंड उपलब्ध कराया है।

कर्ज (Borrowing): इंडियन रेलवे फाइनेंस अलग-अलग स्रोतों से अपनी आर्थिक आवश्यकताओं को पूरा कर रहा है। इसके फंडिंग योजना का मुख्य उद्देश्य भारतीय रेलवे को कम कीमत पर कर्ज उपलब्ध कराना तथा भारतीय रेलवे को लाभान्वित करना है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस का फ्यूचर प्लान क्या है ? (What is Future Plan of Indian Railway Finance)

  • इंडियन रेलवे फाइनेंस का मुख्य उद्देश्य देश के फाइनेंस सेक्टर में काम करने वाले कंपनियों में सबसे अग्रणी बनना है। तथा भारतीय रेलवे को आगे बढ़ाने के लिए आवश्यक फंडिंग का पूर्ति करना है।
  • भारतीय रेलवे के लिए अधिक प्रतिस्पर्धा दरों और शर्तों पर घरेलू और विदेशी पूंजी बाजारों के माध्यम से आवश्यक संसाधन के लिए उधार इकट्ठा करना है।
  • भारतीय रेलवे के उधार की लागत को कम करने के लिए आवश्यक फंडिंग को उपलब्ध कराना है।
  • भविष्य में भारतीय रेल के विकास और लाभप्रदता को बनाए रखने के लिए भारतीय रेलवे के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए फंडिंग की आवश्यकताओं की पूर्ति का पता लगाना है।
  • प्रशिक्षण एवं अन्य मानव संसाधन के माध्यम से कंपनी के कर्मचारियों की बीच व्यावसायिकता को बढ़ाना है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर होल्डिंग पैटर्न क्या है ? (What is Indian Railway Finance ShareHoldings Pattern)

ShareholdersPercentage
प्रमोटर्स86.36%
फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (FII)1.15%
डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (DII)2.61%
पब्लिक इन्वेस्टर्स9.87%

इंडियन रेलवे फाइनेंस के फाइनेंशियल कंडीशन के मुख्य बिंदु

इंडियन रेलवे फाइनेंस में निवेश करने से पहले कम्पनी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं के बारे में जानकारी होना आवश्यक है, क्योंकि यह सारे बिंदु आपको कम्पनी के भविष्य को को सही तरह से आंकने में मदद कर सकते हैं। तो आइए इन बिंदुओं को देखते हैं-

प्राइस टू अर्निंग (P/E) रेशियों: किसी कंपनी का प्राइस टू अर्निंग रेशियों यह बताता है कि एक निवेशक कंपनी के 1 शेयर के लिए कितना भुगतान करने को तैयार है।

किसी कंपनी का प्राइस टू अर्निंग रेशियों जितना कम होता है, उस कंपनी की ग्रोथ होने की संभावना उतनी ज्यादा होती है। इंडियन रेलवे फाइनेंस का वर्तमान P/E रेशियों 7.14 है, जो कंपनी की ग्रोथ के लिए सही है।

रिटर्न ऑन असेट्स (ROA): किसी कंपनी का रिटर्न ऑन असेट्स यह बताता है कि कोई कंपनी अपने असेट्स पर कितना प्रभावी रिटर्न कमा सकती है मतलब कोई कंपनी किसी संपत्ति को खरीदने के लिए अपने प्रॉफिट को कितनी कुशलता से उपयोग करती है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस का रिटर्न ऑन असेट्स 1.47% है, जो काफी हद तक कंपनी के भविष्य के प्रदर्शन के लिए एक अच्छा संकेत है।

रिटर्न ऑन इक्विटी (ROE): किसी कंपनी का रिटर्न ऑफ इक्विटी यह बताता है कि कोई कंपनी में अपने शेयरधारकों के निवेश से कितना लाभ उत्पन्न कर सकती है, या यह कह सकते हैं कि कोई कंपनी अपने निवेशकों को इक्विटी पर कितना रिटर्न दे सकती है।

अगर किसी कंपनी का रिटर्न ऑन इक्विटी 15 से ज्यादा है तो यह कंपनी के स्थिति के लिए अच्छा माना जाता है। इंडियन रेलवे फाइनेंस का रिटर्न ऑन इक्विटी 15.84% है। जो कंपनी में निवेश के दृष्टिकोण से सही है।

डेट टू इक्विटी (D/E) रेशियों: किसी कंपनी का डेट टू इक्विटी रेशियों यह बताता है कि कोई कंपनी कैश के मामले में कितना मजबूत है, इसके साथ-साथ यह उसके प्रदर्शन के बारे में ‌भी बताता है।

किसी कंपनी का डेट टू इक्विटी रेशियों जितना कम होता है वह कंपनी उतनी अच्छी मानी जाती है। इंडियन रेलवे फाइनेंस का डेट टू इक्विटी रेशियों 9.47 है। जिसका अर्थ है, कि कंपनी के ऊपर कोई कर्ज नहीं है। जो कंपनी के भविष्य के लिए सही मानी जाती है।

सेल्स ग्रोथ: किसी कंपनी का सेल्स ग्रोथ यह बताता है कि कंपनी के प्रोडक्ट की बाजार में मांग कितनी है और कंपनी इससे कितना प्रॉफिट कमा रही है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस ने अपने पिछले साल के सेल्स ग्रोथ की तुलना में इस साल लगभग 28.72% की वृद्धि दर्ज की है। इससे यह पता चलता है कि कंपनी अच्छा प्रदर्शन कर रही है।

प्रमोटर्स शेयर होल्डिंग: अगर किसी कंपनी के प्रमोटर्स (डायरेक्टर और बोर्ड ऑफ मेंबर) के पास 45% से अधिक शेयर होल्डिंग है तो कंपनी की स्थिति अच्छी मानी जाती है।

अगर बात करें इंडियन रेलवे फाइनेंस के प्रमोटर्स के शेयर होल्डिंग की तो इस कंपनी के प्रमोटर्स के पास लगभग 86.36% शेयर है। जो कंपनी के भविष्य के लिए बहुत अच्छा माना जाएगा। मतलब यह कंपनी भविष्य में अपने निवेशकों को निश्चित ही अच्छा रिटर्न देगी।

इंडियन रेलवे फाइनेंस के फाइनेंशियल कंडीशन का संक्षिप्त विवरण ( Financial Condition of Indian Railway Finance by Table in Hindi )

मार्केट कैप₹45,543.74 करोड़
नंबर ऑफ शेयर्स1306.85 करोड़ 
सेल्स ग्रोथ28.72%
प्रॉफिट ग्रोथ37.90%
फ्री कैश फ्लो₹6,089.84 करोड़ 
डेट (लोन, कर्ज)00.00
प्राइस टू बुक (P/B) रेशियों1.03
डेट टू इक्विटी (D/E) रेशियों9.47
प्राइस टू अर्निंग (P/E) रेशियों7.14
इक्विटी पर शेयर (EPS) रेशियों37.90%
रिटर्न ऑन असेट्स (ROA)1.47%
रिटर्न ऑन इक्विटी (ROE)15.84%
रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड (ROCE)5.12%
पिछले 52 Week High₹37.40
पिछले 52 Week Low₹19.30

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2023 ( IRFC Share Price Target 2023 in Hindi )

आमतौर पर देखा जाए तो इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन भारतीय रेलवे के लिए अलग-अलग तरह से काम करती है। जिसमें कंपनी के द्वारा लंबे समय के लिए रेलवे की संपत्ति को किराए के रूप में देकर उससे प्राप्त रेंट से भारतीय रेलवे के इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने तथा भारतीय रेलवे के प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए आवश्यक फाइनेंस को उपलब्ध कराना शामिल है। 

इस आधार पर देखा जाए तो यह कंपनी भारतीय रेलवे की हर तरह के इंफ्रास्ट्रक्चर और फाइनेंस से संबंधित समस्याओं के समाधान करती है। जिसका अर्थ है इंडियन रेलवे फाइनेंस कंपनी का भविष्य में ग्रोथ होना निश्चित है। मतलब इस कंपनी में निवेश करने वाले निवेशक को निश्चित ही रिटर्न मिलने की संभावना बनी रहती है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹42 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹46 तक होने की संभावना है।

महीनान्यूनतम कीमत (INR में)अधिकतम कीमत (INR में)
जनवरी₹31.35₹33.18
फरवरी₹27.72₹30.32
मार्च₹27.01₹28.99
अप्रैल₹26.6₹27.54
मई₹29.08₹33.56
जून₹35.00₹35.61
जुलाई₹35.37₹36.27
अगस्त₹36.39₹37.08
सितंबर₹37.01₹37.73
अक्टूबर₹37.40₹39.90
नवंबर₹39.67₹44.75
दिसंबर₹44.19₹45.30

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2024 ( IRFC Share Price Target 2024 in Hindi )

पिछले एक दो साल से भारतीय रेलवे नए नए प्रोजेक्ट पर तेजी से काम कर रहा है, जिसकी फंडिंग के लिए इंडियन रेलवे फाइनेंस के लोन बुक में भी बढ़ोतरी होता दिखाई दे रहा है।

भारतीय रेलवे का कहना है की कोरोना महामारी के कारण होल्ड किए हुए प्रोजेक्ट को फिर से धीरे-धीरे शुरू किया जा रहा है जिसके फंडिंग की पूर्ति के लिए फाइनेंस निश्चित तौर पर इंडियन रेलवे फाइनेंस ही उपलब्ध कराएगा। प्रोजेक्ट की फंडिंग के लिए निश्चित तौर पर कंपनी अपने सेवा को अधिक मात्रा में प्रयोग करेगी, जिससे कंपनी की भविष्य में ग्रोथ होने की पूरी संभावना है।

हमारे विशेषज्ञों का मानना है कि इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹51 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹57 तक होने की संभावना है।

महीनान्यूनतम कीमत (INR में)अधिकतम कीमत (INR में)
जनवरी₹44.67₹45.68
फरवरी₹43.25₹44.54
मार्च₹42.92₹43.01
अप्रैल₹42.90₹44.75
मई₹44.38₹45.99
जून₹46.18₹46.58
जुलाई₹46.36₹47.34
अगस्त₹47.28₹48.03
सितंबर₹48.17₹48.72
अक्टूबर₹48.38₹50.64
नवंबर₹50.61₹55.36
दिसंबर₹55.21₹56.23

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2025 ( IRFC Share Price Target 2025 in Hindi )

इंडियन रेलवे फाइनेंस धीरे-धीरे अपने बिजनेस को बढ़ाने तथा भारतीय रेलवे को नए और बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर बनाने के लिए बड़ी मात्रा में फाइनेंस देने के लिए वर्ल्ड बैंक, नेशनल बैंक फॉर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट जैसी ग्लोबल विदेशी बैंकों तथा घरेलू बैंकों से सस्ते दर पर लोन लेने का विचार कर रही है।

विशेषज्ञों की माने तो आने वाले कुछ सालों में कंपनी भारतीय रेलवे के रेलवे प्लेटफार्म के विकास, रेलवे लाइन के ऊपर विद्युतीकरण करने तथा रेलवे से संबंधित अन्य सेवाओं में वृद्धि के लिए फंड इकट्ठा करने पर विचार कर रही है। अगर इंडियन रेलवे फाइनेंस ऐसा करती है तो लंबे समय में कंपनी की प्रॉफिट ग्रोथ बहुत ज्यादा मात्रा में होगी। इसमें लंबे समय के लिए निवेश करने वाले निवेशक को भी भारी रिटर्न मिलने की पूरी संभावना है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹63 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹68 तक होने की संभावना है।

महीनान्यूनतम कीमत (INR में)अधिकतम कीमत (INR में)
जनवरी₹55.52₹56.65
फरवरी₹54.21₹55.40
मार्च₹53.93₹54.38
अप्रैल₹53.80₹55.59
मई₹53.31₹56.89
जून₹57.10₹57.55
जुलाई₹57.29₹58.23
अगस्त₹58.23₹58.95
सितंबर₹59.08₹59.71
अक्टूबर₹59.25₹61.50
नवंबर₹61.82₹66.47
दिसंबर₹66.16₹67.16

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2026 ( IRFC Share Price Target 2026 in Hindi )

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹72 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹79 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹72
दूसरा टारगेट₹79

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2027 ( IRFC Share Price Target 2027 in Hindi )

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹85 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹90 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹85
दूसरा टारगेट₹90

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2028 ( IRFC Share Price Target 2028 in Hindi )

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹102 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹109 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹102
दूसरा टारगेट₹109

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2029 ( IRFC Share Price Target 2029 in Hindi )

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹118 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹123 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹118
दूसरा टारगेट₹123

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस टारगेट 2030 ( IRFC Share Price Target 2030 in Hindi )

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर प्राइस 2023 का पहला टारगेट लगभग ₹140 तथा दूसरा टारगेट लगभग ₹148 तक होने की संभावना है।

पहला टारगेट₹140
दूसरा टारगेट₹148

इंडियन रेलवे फाइनेंस टारगेट 2023, 2024, 2025, 2026, 2027, 2028, 2029, 2030 ( IRFC Share Price Target 2023, 2024, 2025, 2026, 2027, 2028, 2029, 2030)

बर्षपहला टारगेटदूसरा टारगेट
2023₹42₹46
2024₹51₹57
2025₹63₹68
2026₹72₹79
2027₹85₹90
2028₹102₹109
2029₹118₹123
2030₹140₹148

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर में निवेश करना चाहिए या नहीं? (Should We Invest in Indian Railway Finance Share or Not in Hindi)

यदि आप अच्छे रिटर्न वाले शेयरों की तलाश कर रहे हैं तो इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड भविष्य के लिए एक लाभदायक निवेश हो सकता है। इंडियन रेलवे फाइनेंस का वर्तमान में एक शेयर की कीमत लगभग ₹34.84 है तथा 2030 इसके शेयर में लगभग +152.86% की वृद्धि के साथ एक शेयर की कीमत ₹100 से भी अधिक होने की संभावना है।

पिछले 12 महीनों में इस कंपनी कि शेयर की कीमत में काफी तेजी देखने को मिला है। इंडियन रेलवे फाइनेंस एक सरकारी संस्था होने के कारण इसके शेयर लोकप्रिय भी हैं। हमारे विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले समय के लिए इस कंपनी में निवेश निवेशक को निश्चित ही एक अच्छा रिटर्न दे सकता है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस शेयर का भविष्य क्या है? (Indian Railway Finance Share Price Ka Bhavishya Kya Hai)

इंडियन रेलवे फाइनेंस पूरी तरह से भारतीय रेलवे को फंड देने वाली एक सरकारी संस्था है। आमतौर पर देखा जाए तो इंडियन रेलवे फाइनेंस भारतीय रेलवे को फाइनेंसियल सपोर्ट देने वाली एकमात्र कंपनी है। भारतीय रेलवे के पास अपने बुनियादी ढांचे को बदलने, विस्तार करने तथा नए-नए रेल एवं रेलवे लाइन को बनाने के लिए बहुत सारे प्रोजेक्ट हैं। इन सभी प्रोजेक्ट को समुचित रूप से पूरा करने के लिए भारतीय रेलवे को फंड की आवश्यकता होगी। इस फंड की पूर्ति के लिए भारतीय रेलवे कहीं ना कहीं इंडियन रेलवे फाइनेंस पर निर्भर रहेगी।

चूंकि इंडियन रेलवे फाइनेंस एक सरकारी संस्था के रूप में कार्य करती है, जिससे भविष्य में कंपनी के ऊपर लोगों का विश्वास बना रहेगा और कंपनी लगातार अच्छा बिजनेस करती रहेगी। इस आधार पर देखा जाए तो भविष्य में कंपनी की अच्छी ग्रोथ होने की बहुत ज्यादा मात्रा में संभावना नजर आती है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस लेटेस्ट न्यूज़ ( Indian Railway Finance Latest News )

  • इंडियन रेलवे फाइनेंस कारपोरेशन ने हाल ही में विदेशी निवेशकों को 750 मिलियन डॉलर मूल्य के बॉन्ड्स बेचे है, जिनकी कीमत केवल 2.80% प्रतिवर्ष है।
  • इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन 4637 करोड़ रुपए जुटाने के लिए 100% बुक बिल्डिंग के साथ बाजार में ₹10 प्रति शेयर की कीमत पर 1,78,20,69,000 शेयर लेकर आ रहा है। जिसमें निवेशक केवल ₹25 से ₹26 में एक इक्विटी शेयर खरीद सकता है।

इंडियन रेलवे फाइनेंस एनर्जी शेयर में निवेश में रिस्क

क्रेडिट रिस्क: चूंकि इंडियन रेलवे फाइनेंस कारपोरेशन लिमिटेड भारतीय रेलवे को फंड देने के लिए स्थापित की गई है। यह कंपनी भारतीय रेलवे को फंड देने के लिए अलग-अलग बैंकों से लोन लेती है, अगर भविष्य में किसी कारणवश कंपनी अपने लोन नहीं चुका पाती है तो यह कहीं ना कहीं कंपनी की बाजार में इमेज तथा ग्रोथ पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है।

पॉलिसी परिवर्तन रिस्क: अगर भविष्य में सरकार के द्वारा इसके पॉलिसी में कोई परिवर्तन किया जाता है, या इसके अलावा भारतीय रेलवे को किसी प्राइवेट सेक्टर के फाइनेंस कंपनी से फाइनेंस लेने की अनुमति दी जाती है तो इस अवस्था में भी इस कंपनी के शेयर में गिरावट आ सकती हैं और इसमें निवेश करने वाले निवेशक को नुकसान हो सकता है।

निजीकरण: वर्तमान में बहुत तेजी के साथ गवर्नमेंट के अधिकतम सेक्टर का निजीकरण हो रहा है, अगर भविष्य में भारतीय रेलवे का भी निजीकरण होता है तो कहीं ना कहीं निजी कंपनियां गवर्नमेंट के अनुसार हो रहे इंफ्रास्ट्रक्चर में हस्तक्षेप अवश्य करेंगे। जिसके कारण या तो कंपनी को पूरी तरह से बंद करना पड़ सकता है या निजी कंपनियां इसे अपने अनुसार चला सकती हैं, जिससे इसमें निवेश करने वाले निदेशक को नुकसान होने की संभावना भी है।

IRFC से जुड़े कुछ सवाल

प्रश्न: IRFC किसकी कंपनी हैं?

उत्तर: IRFC केंद्र सरकार की हैं।

प्रश्न: क्या IRFC की शेयर प्राइस अंडरवेल्यू हैं?

उत्तर: हां, IRFC की शेयर प्राइस अंडरवेल्यू है।

प्रश्न: क्या आपको IRFC की शेयर में निवेश करना चाहिए?

उत्तर: हां, आप IRFC की शेयर में निवेश कर सकते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top