स्त्रीलिंग किसे कहते है, स्त्रीलिंग शब्द की पहचान

नमस्कार दोस्तों, Allhindi.co.in के एक नए लेख में आप सभी का स्वागत है। आज की इस लेख (स्त्रीलिंग किसे कहते है) इसके बारे में आप विस्तृत तरीके से जानेंगे। आइए जानते है की स्त्रीलिंग किसे कहते है और स्त्रीलिंग शब्द की पहचान कैसे की जाती है। इसके अलावा यदि आप पुल्लिंग के बारे में जानना है तो आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं

स्त्रीलिंग किसे कहते है

संज्ञा का वह रूप जिससे किसी स्त्री जाति का पता चले ,उसे स्त्रीलिंग कहते है। जैसे – माता, रानी, घोड़ी, कुतिया, बंदरिया,आदि। आपने अभी तक यह जाना की स्त्रीलिंग किसे कहते है अब आप जानेंगे की स्त्रीलिंग की पहचान कैसे की जाती है

स्त्रीलिंग किसे कहते है
स्त्रीलिंग किसे कहते है

स्त्रीलिंग की पहचान कैसे की जाती है

  1. ऐसे शब्द जिनके अंत में हव,वट ,ता ,आई ,या आस,ये शब्द आए तो वे शब्द स्त्रीलिंग होते है। जैसे – कड़वाहट ,आहट ,बनावट ,शत्रुता ,मुर्खता ,मिठाई ,छाया ,प्यास आदि।
  2. ऐसे शब्द जिनके अंत में ‘आनी’ शब्द जुड़ा हो ऐसे शब्द प्राय: स्त्रीलिंग होते है। जैसे – इंद्राणी, जेठानी ,ठुकरानी ,राजरानी आदि |
  3. ऐसे शब्द जो ईकारांत हो ऐसे शब्द प्राय: स्त्रीलिंग होते है। जैसे – रोटी, टोपी, नदी, चिट्ठी, उदासी, रात, बात, छत, भीत आदि |
  4. ऐसे शब्द जिनके अंत में ख अक्षर आते हो, ऐसे शब्द प्रायः स्त्रीलिंग कहलाते हैं। जैसे-ईख, भूख, चोख, राख, कोख, लाख, देखरेख आदि।
  5. प्राय : भाषाओँ के नाम को स्त्रीलिंग की श्रेणी में रखा जाता है। जैसे – संस्कृत ,राजस्थानी ,हिंदी ,रुसी ,पंजाबी आदि |
  6. निम्न नदियों के नाम भी प्राय: स्त्रीलिंग होते है। जैसे – गंगा, ताप्ती ,नर्मदा ,यमुना, गोदावरी, सरस्वती आदि।
  7. तिथियों के नाम भी प्राय: स्त्रीलिंग होते है। जैसे– पूर्णिमा, अमावस्था, एकादशी, चतुर्थी, प्रथमा आदि।
  8. जिन शब्द के अंत में ‘इया’लगा हो वे प्राय: स्त्रीलिंग होते है। जैसे – बिटिया ,नदिया ,बुढिया ,डिबिया आदि
  9. भाषाओं व लिपियों के नाम भी स्त्रीलिंग होते है। जैसे – देवनागरी, अंग्रेजी, हिंदी, फ्रांसीसी, अरबी, फारसी, जर्मन, बंगाली आदि।
  10. ऐसे कुछ नक्षत्र होते है जिन्हे अक्सर स्त्रीलिंग कहा जाता है। जैसे -अश्विनी, रेवती, मृगशिरा, चित्रा, भरणी, रोहिणी आदि।

इस लेख के बारे में:

तो आपने इस लेख में जाना की स्त्रीलिंग किसे कहते है? इस लेख को पढ़कर आपको कैसा लगा आप अपनी राय हमें कमेंट कर सकते है। इस लेख में सामान्य तौर पर किसी भी प्रकार की कोई गलती तो नहीं है लेकिन अगर किसी भी पाठक को लगता है कि इस लेख में कुछ गलत है तो कृपया कर हमे अवगत करे। आपके बहुमूल्य समय देने के लिए और इस लेख को पढने के लिए allhindi की पूरी टीम आपका दिल से आभार व्यक्त करती है।

इस लेख को अपने दोस्तों तथा किसी भी सोशल मीडिया के माध्यम से दुसरो तक यह जानकारी पहुचाये। आपकी एक शेयर और एक कमेंट ही हमारी वास्तविक प्रेरणा है।

Leave a Comment